पत्नी को छोटे लंड से ही सुहागरात पर संतुष्ट किया


हाय मेरे प्यारे दोस्तों केसे हो आप सब ? उम्मीद तो यही है की आप सब ठीक होगे और अपनी जिंदगी में कहीं न कहीं किसी न किसी को चोद रहे होगे | सबसे ज़रूरी बात जिंदगी में यह होती है की आप किसी को कितना संतुष्ट कर पाते हो | क्यूंकि अगर आपसे कोई संतुष्ट नहीं है तो वो कहीं और अपनी प्यास बुझाने के लिए ज़रूर जाएगा | दोस्तों मेरा नाम अंकित है और मैं एक साधारण सा लड़का हूँ | न ही मेरा लंड इतना बड़ा है और ना ही छोटा | पर ये कहानी मेरी जिंदगी की सबसे सच्ची कहानी है और में जनता हूँ की इसका कई लोगो से वास्ता भी होगा |

देखिये प्यार और हवस दोनों में बहुत अंतर हैं क्यूंकि एक पवित्र है और दूसरा वासना से सम्बंधित है | तो एक बात हमेशा ध्यान रखिये की इन दोनों चीजों को कभी एक साथ मत कीजिये | एक बात और जो मैं आपको बताना चाहता हूँ वो यह है कि अगर कोई लड़की आपसे प्यार करती है तो वो आपका लंड कितना बड़ा है ये नहीं देखेगी | अजीब बात यह है की मैं अक्सर देखता की लोग कहते हैं मेरा लंड इतना बड़ा है…….. इतना मोटा है | अरे यार चुदाई करनी है ……. जुंड पे नहीं जाना है और न ही गहराई नापनी है |

मैं साफ़ कहता हूँ की मेरा लंड छोटा है पर मेरी सहेली मुझसे बड़ी खुश रहती है | मैंने तो उसकी जस्सोसी भी करके देख ली एक साल तक उस लड़की ने किसी और के साथ सम्बन्ध तो क्या दोस्ती का रिश्ता नहीं बनाया | तो जो भी पाठक मेरी यह कहानी पढ़ रहा है और उसका लंड छोटा है तो वो प्यार पे अपनी शक्ति लगाये न की दिखावे वाले विज्ञापनों पर | इससे आपका पैसा और समय दोनों बच जाएगा और अपने साथी को समझ पाओगे |

मैंने हर समय यही सोचा था की मैं अपने जैसे लोगो की मदद करूँगा और वो में आज भी करता हूँ | तो दोस्तों अब में आपको मेरी सच्ची कहानी बताता हूँ जो मेरे साथ असलियत में हुयी है | मैं एक व्यापारी हूँ और मेरा आना जाना बहुत होता रहता है | तो जनवरी का सर्द मौसम था और मेरे दोस्त की शादी थी | पहले तो मेरा मन नहीं था जाने का पर उसके दवाब के कारन बुझे वहां जाना पड़ा | अब साला मैं करता क्या अकेला उस जगह पर तो मैंने सोचा कि क्यों न शादी का ही मज़ा उठाया जाये | तो में अन्दर जाकर बैठा और एक बहुत ही प्यारी लड़की को डांस करते हुए देखा |

सच बताऊ तो मेरा पहली नज़र में ही दिल आ गया था उस पर और मेरा बस चलता तो मैं उसी मंडप में उससे शादी कर लेता | फिर मैंने सोचा की हटाओ यार इसका तो पहले से ही कहीं चक्कर चल रहा होगा | अब अगले दिन मैं वह से निकल आया और अगले महीने मेरा दोस्त अपनी पत्नी के साथ मेरे घर आ गया | दोनों बड़े ही अच्छे लग रहे थे साथ में | मैं अकेला ही रहता था अपने बंगले में मेरे मम्मी पापा अब इस दुनिया में नहीं थे |

पहले मैं पैसे के पीछे भागता था अब इतना पैसा था की समझ नहीं आता था कि खर्च कहाँ करूँ | मेरे दोस्त ने मुझसे कहा यार अब तू भी शादी कर ही ले | यार…… मेरा बस चले तो आज कर लूँ पर अच्छी लड़की मिलती कहाँ है | तो भाभी ने कहा भैया देखने से सब मिल जाएगा अगर आप बोलो तो अपनी दोस्तों से बात करूँ आपके लिए | मैंने कहा भाभी आप भी कोशिश कर ही लीजिये और इतने में मेरे दोस्त ने अपनी शादी का विडियो चला दिया | थोड़ी देर बाद जब शादी वाला हिस्सा आया तो वही लड़की वहां नाचते हुए नज़र आई | मैंने कहा…. रुक रुक रुक…… और उसने विडियो रोक दिया | मैंने उससे पूछा यार ये लड़की कौन है मुझे बहुत अच्छी लगती है | भाभी ने कहा लीजिये आपकी शादी पक्की हुयी समझो | मैंने कहा क्या ? उन्होंने कहा हाँ ये मेरी दोस्त है और बहुत अच्छी लड़की है आज तक किसी लड़के से बात तक नहीं की इसने |

मुझे भी लगा यार अंकित आज तो तेरी किस्मत चमक गयी | भाभी ने तुरंत उसके घर में फ़ोन लगाया और कहा मम्मी मुझे लड़का मिल गया है आप सब कुछ छोडके यहाँ आ जाओ | उसका घर परिवार भी सब अच्छा था और वो सब लोग आये और मुझे देखा पर मेरी जान अभी तक नहीं आई थी | भाभी और मेरा दोस्त मेरे घर पर ही रुके और साड़ी तैयारियां की | उसके मम्मी पापा को मैं बड़ा पसंद आया और तब जाकर मुझे उसका नाम पता चला जो था रीना | अब मेरा नंबर उसके पास जा चुका था और एक दिन उसने मुझे फ़ोन लगाया | कुछ दिनों तक तो हमारी अच्छी बात चली पर एक दिन मैंने सोचा की इसे भी सच बता ही देता हूँ |

मैंने उससे पूछा रीना अगर आपका पति आपको संतुष्ट नहीं कर पाया तो | तो उसने दो टूक जवाब दिया “वो मेरा पति है और मुझे उसकी अच्छाई और प्यार से मतलब है न की शारीरिक बनावट से” | मुझे यकीन हो गया ये लड़की दूसरी लड़कियों के जैसी नहीं है | शादी की तारिख तय हो गयी और एक बार फिर भाभी और दोस्त मेरे घर पर आ गये और सब कुछ संभल लिया | रीना भी मुझे अच्छे से जान चुकी थी और उसके चेहरे की चमक ये साफ़ बयां कर रही थी |

शादी के एक दिन पहले उसका फोन आया और उसने कहा पतिदेव अब सारी चिंता छोड़ के सिर्फ मुझपे ध्यान रखना बाकी मैं सब संभाल लूंगी | ये बात सुनके दिल को काफी सुकून मिला और हमारी शादी हो गयी | सुहाग रात वाले दिन मुझे बिलकुल भी चिंता नहीं थी क्यूंकि मैंने रीना को पहले ही बता दिया था की मेरा लंड छोटा है | दोस्तों चोदते समय आपकी चोदने की शक्ति, समय और पोजीशन मायने रखती है |

उस रात को मैं शर्मा रहा था तो रीना मेरे पास आई और मेरा हाथ पकड़ के बिस्तर पर ले गयी | उसने मेरे सारे कपडे उतारे और कहा की चलो मुझे इस शादी के जोड़े में काफी गर्मी लग रही है इसे उतार दो | मैंने भी उसके सारे कपडे उतार दिए और कसम से मेरा छोटा लंड इतना खड़ा हो गया की मैं आपको बता नहीं सकता | उसका बदन था की रसमलाई मन कर रहा था चाट लूँ | उसने मेरे लंड की तरफ देखा और कहा पति देव चिंता मत करो इससे मुझे कोई फर्क पड़ता | मुझे फर्क पड़ता है आपके प्यार से जो की आप मुझसे बहुत करते हो |

उसके बाद उसने मुझे चूमना शुरू किया और मेरे लिप्स से होते हुए वो मेरे लंड तक पोहंच गयी | उसने मेरे लंड को इस कदर चूसा की मैं उसके मुंह में ही झड गया | अब मेरी बारी थी तो मैंने उसे पकड़ कर बिस्तर पर पटका और उसके लिप्स पर चूमने लगा धीरे धीरे मैं उसके दोध की और बढ़ा | जैसे ही मैंने उसके निप्प्प्ले पर मुह लगे तो देखा की वो तने हुए हैं | फिर भी मैं उन्हें चूसता गया और उसके इतना गरम कर दिया की उसने अपनी चूत से तीन बार पानी छोड़ा |

फिर मैंने उसकी गीली चूत की खुशबू को सूंघा और उसे पागलों की तरह चाटने लगा | आआअह्ह्ह्ह आआअह्ह्ह्ह ………. ऊओह्हह्ह और चाटो ना अंकित प्लीज | मैंने आज तक ऐसा महसूस नहीं किया ऊम्म्म्मम्म्म्म और करो …… ओह्हह्हह्ह अंकित मैं झड़ने वाली हूँ मेरा सारा पानी पीलो | मुझे भी जोश चढ़ा हुआ था तो मैं उसका सारा पानी पी गया | अब बारी थी उसकी नाज़ुक सी गीली चूत को चोदने की | मैं उठा और मैंने अपना लंड उसकी चूत पे टिकाया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया ताकि और भी मज़ा आये |

जेसे ही मैंने पहला झटका लगाया वो चिल्ला पड़ी ओह्ह्हह्ह्ह्हह्ह ऊऊउईईईईईईई निकालो बहुत दर्द हो रहा है | मैं उसके ऊपर झुका और उसे चूमने लगा और धीरे धीरे लंड अन्दर बाहर करने लगा | इतने में ही मैंने पूरा लंड अन्दर डाल दिया और उसकी चूत से हल्का सा खून निकल आया | पर इस बार वो दर्द को झेल गयी और ऊम्म्म्मम्म्म्म आअह्ह्ह्ह की आवाजें करने लगी | मज़ा उसे भी आ रहा था क्यूंकि मैं उसे चोद ही कुछ अलग तरीके से रहा था |

अब हम दोनों को मज़ा आने लगा था और मैं जोर जोर से उसकी चूत में लंड को अन्दर बाहर कर रहा था | इतने में ही उसने मुझसे कहा मैं झड़ने वाली हूँ और वो झड़ गयी | उसकी छोट की गर्माहट से मैं भी उसकी चूत के अन्दर ही झड़ गया | अब हम दोनों एक दुसरे के बाजू में नंगे लेटे थे | तभी उसने कहा देखा आपने मुझे संतुष्ट कर दिया न अब कभी खुद पे शक मत करना | दोस्तों आपको ये कहानी कैसी लगी कमेंट में जरुर बताना |



Online porn video at mobile phone


desi bhabhi openshaadi ke सकसी अबबु बेटी के साथ सकसी कहनी चुद गईmaa beti ki ek sath chudaiSaheli ki pahli chudai kahanihindi kahani chut ki chudaimami papa sexsex maa ka boorfar CHODIhindi mom sex storyblack man ka sath goa main chudai hindi sex story.comsex story girl hindihindi desi kahanibhosda ka photojangal rep sexbur chudaisexey storychachi chodchudai ki kahani mausi kichut land ki kahani hindi mehindi randi pornhindi desi sexy kahaniyaholi mastixxx gand mari hindi storysaree chudaichut me lund storybiwi ki chudai ki videohindi anterwasna comma chudai kahanibhabhi ki chootचाची की चुदाई नई स्टोरीchoot sexy storyhindi sex kteacher ki chudai hindi maichhote lund se chudaiantrwasna hindi storiantervasna hindi sexy storyhindi chudai clipbhabhi ki chudai in hindi storieschudai ki kahani hindi maland chut ki kahanisex bhabhi chudaibhabhi chudai kahani in hindipapa beti ki chudaiBurland ki story read in hindikutiya ki gand marimammy ki chudai ki kahaniantarvasna 2006बहन के चक्कर में मां चोदी कहानीsexy girl ki chudaiwww antarvana comfriend ki chudai storyसेकसि गाव कि छोटि लङकि कि चुदाईchut chudai storyhindi font xxx storieshindi sax khaniraat ka mazadesi bhabhi ki chudai ki kahanifree sex hindi storieshindi aunty fuckantarvasna hindi story appwww bhabi ke chudai comkachi chudaibahan ne hamse pelwaya hindi meporn bhabhi comtrain me ajnabi ko chodahindi sexy stoey mosi ko mene chooda jab mosa vidash ghaye themaa ne beti ko chodadesi sex romancechudai new storymarried couple sex storiesshort fucking story in hindichudai kahani indianindian comic sexmastram ki hindi chudai storychudai ki mast raat